You are here
Home > ALL > हिन्दी शॉर्ट फिल्म डिग्री

हिन्दी शॉर्ट फिल्म डिग्री

आप सभी के बीच प्रस्तुत हुआ “एम के पप्पू” के निर्देशन में बनी फिल्म (डिग्री) ! आप सभी इस बेहतरीन शॉर्ट फिल्म को यूट्यूब के (खाटी देहाती) चैनल पर देख सकते हैं ! “एम के पप्पू” के निर्देशन मे बनी एक बहुत ही बेहतरीन शॉर्ट मूवी जिसका टाइटल हैं (डिग्री)!

इस शॉर्ट मूवी में अभिनेता “रोहित तिवारी” और अभिनेत्री “कोमल झा” मुख्य भुमिका में नजर आएन्गी एवं साथ ही साथ भोजपुरी जगत के जाने माने एवं मशहूर कलाकार “सी.पी भट्ट” भी अहम किरदार करते नजर आएन्गे ! जिसके डी.ओ.पी “अशोक माही” हैं! इस फिल्म के पीआरओ “आर्यन पांडे” हैं!

य़ह शिक्षा पर आधारित लघु फिल्म है | हम इस लघु फिल्म के माध्यम से समाज को यह संदेश देना चाहते हैं कि परंपरागत शिक्षा के साथ-साथ औद्योगिक शिक्षा से भी जुड़े | शिक्षा का महत्व तभी है जब “शिक्षा रोजगार उन्मुखी हो-महात्मा गांधी

बचपन में जब हम पिता की उंगली को पकड़कर स्कूल की पहली सीढ़ी को चढ़ते हैं तो आंखों में एक ही सपना होता है कि अच्छी तालीम अच्छी शिक्षा और अच्छी डिग्री हम हासिल करेंगे और समय अनुसार करते भी हैं! लेकिन उस समय कलेजा पसीज जाता है जब हम उसी डिग्री के बलबूते हीं नौकरी हासिल करने के लिए आगे बढ़ते हैं और ना चाहते हुए भी एक बड़े भीड़ का हिस्सा बन जाते हैं साक्षात्कार देते हैं फॉर्म पर फॉर्म भरते हैं और हमें पता चलता है कि यदि हम फलना किए रहते तो हमारी नौकरी हो जाती फिर हम अपने आप को कोसना शुरू करते हैं अपने अभिभावकों को कोसना शुरू करते हैं और सिर्फ और सिर्फ हताशा और निराशा हमारे हाथ लगती है ।बदलते समय और परिवेश में हमें नौकरी कैसे मिले हमारे पढ़ाई का जो असली आयाम है मुकम्मल स्थान कैसे हासिल हो इस प्रति हम ध्यान पढ़ाई के समय नहीं देते हैं फिर शुरू होता है बेरोजगारी का वह दंश जो समय रहते हमने उपाय नहीं किया था वह समय बीत जाने के बाद करने के लिए सोचने लगते हैं ।कुल मिलाकर डिग्री में यह दिखाया गया है कि बेरोजगार से स्वरोजगार तक कैसे आसानी से पहुंचा जाए बिना भीड़ का हिस्सा बने और अपने परिवार को एक मुकम्मल जिंदगी दी जाए !यही कहानी है “डिग्री” की! चंपारण की पावन धरती पर बनी यह शिक्षा से ओतप्रोत शॉर्ट फिल्म हैं!

Leave a Reply

Top